विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सोना पहनने वाले लोग रखें इन बातों का ख़ास ख्याल
Remedies for Wearing Gold

सोना पहनने वाले लोग रखें इन बातों का ख़ास ख्याल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

CBSE 12th Result 2020: सीबीएससी 12वीं के परिणाम हुए जारी, एक क्लिक में देखें यहां...

आज दोपहर बाद सीबीएसई ने 12वीं कक्षा के परिणाम जारी कर दिए। आप सीबीएसई की वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं। वहीं कोरोना महामारी के चलते परिक्षाएं स्थगित करने के बाद बोर्ड ने केवल मुख्य परीक्षाएं कराने का फैसला लिया था। 

देहरादून रीजन के 10वीं के सभी मुख्य विषयों की परीक्षाएं पूरी हो चुकी थी। केवल एक कंप्यूटर साइंस की परीक्षा बची हुई थी, जो कि छठा विषय होता है। लिहाजा, इसकी परीक्षा नहीं कराई गई। उत्तराखंड और देहरादून रीजन के अंतर्गत आने वाले यूपी के जिलों में केवल 12वीं के 12 विषयों की परीक्षाएं ही कराई गई।

यूपी के आठ जिले हैं दून रीजन में

सीबीएसई के देहरादून रीजन में न केवल पूरे उत्तराखंड के 13 जिले बल्कि उत्तर प्रदेश के भी आठ जिले शामिल हैं। सीबीएसई दून रीजन में यूपी के रामपुर, मुरादाबाद, संभल, बदायूं, सहारनपुर, अमरोहा , मुजफ्फरनगर और बिजनौर जिले शामिल हैं।

... और पढ़ें
सीबीएसई बोर्ड सीबीएसई बोर्ड

Uttarakhand Weather : आज इन दो जिलों में यलो अलर्ट, 16 तक जारी रहेगा बारिश का सिलसिला

प्रदेशभर में रविवार को मानसूनी बादल छा गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक 16 जुलाई तक बारिश का सिलसिला प्रदेशभर में जारी रहेगा। वहीं, सोमवार को नैनीताल और पिथौरागढ़ में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

उत्तराखंड: खोह नदी में बने गड्ढे में डूबने से दो चचेरे भाईयों की मौत, नहाने गए थे दोनों

प्रदेशभर में रविवार को दिनभर बादल छाए रहे। अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश भी रिकॉर्ड की गई। मौसम विभाग ने साप्ताहिक बुलेटिन जारी किया है, जिसके मुताबिक 16 जुलाई तक प्रदेशभर में हल्की से मध्यम बारिश का सिलसिला चलेगा।

मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि इस दौरान कई जिलों में भारी तो अनेक जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होगी।

उन्होंने बताया कि सोमवार को जहां प्रदेशभर में हल्की से मध्यम बारिश होगी, वहीं, नैनीताल और पिथौरागढ़ में भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया गया है।

वहीं, राजधानी में भी सोमवार को हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। बारिश के चलते तापमान में भी गिरावट आ सकती है। वहीं, उमस से भी राहत मिलने की उम्मीद है। 
... और पढ़ें

छात्र-छात्राओं के लिए जरूरी खबर: यूजी-पीजी परीक्षा का समय हो सकता है कम, तैयारी में जुटा विभाग

आधार कार्ड
प्रदेश के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में 24 अगस्त से होने वालीं परीक्षाओं का समय कम करने की तैयारी है।

Coronavirus in Uttarakhand : इस कॉलेज में अब अगले साल शुरू हो पाएंगी कक्षाएं

उच्च शिक्षा राज्यमंत्री ने कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए अधिकारियों को परीक्षा समय कम करने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद विभागीय अधिकारी परीक्षा के समय को तीन की जगह डेढ़ घंटा करने की तैयारी में हैं।

मानव संसाधन मंत्रालय व यूजीसी के निर्देशों के तहत प्रदेश में विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों के अंतिम वर्ष व अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं 24 अगस्त से 25 सितंबर के बीच होंगी।

25 अक्तूबर को इनका परिणाम घोषित किया जाना है। इन परीक्षाओं में करीब 80 हजार छात्र-छात्राओं को प्रतिभाग करना है, जिनमें 25 हजार छात्र-छात्राएं बाहरी राज्यों के हैं।

अब कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रदेश सरकार की ओर से यह निर्णय लिया गया है कि प्रश्न पत्र को हल करने का समय घटाया जाए।

उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ.धन सिंह रावत के अनुसार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी चाहते हैं कि परीक्षा का समय कम किया जाए। उन्होंने कहा कि इस बार परीक्षा का समय तीन घंटे से घटाकर दो या डेढ़ घंटे किया जा सकता है।
... और पढ़ें

एक्सक्लूसिव: देहरादून में हरेला पर्व पर बनेगा कीर्तिमान, एक घंटे में लगाए जाएंगे 2.75 लाख पौधे 

देहरादून में इस बार हरेला पर्व पर कीर्तिमान बनेगा। 16 जुलाई को देहरादून में एक घंटे में 2.75 लाख पौधे लगाए जाएंगे। दो साल पहले हरेला पर 22 जुलाई 2018 को रिस्पना से ऋषिपर्णा अभियान के तहत दो लाख पौधे लगाए गए थे। जिला प्रशासन के नेतृत्व में 16 जुलाई को चलने वाले अभियान की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। हरेला पर्व को लेकर इस बार एक घंटे में 2.75 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायतों के साथ ही वन विभाग, उद्यान विभाग, मनरेगा, एमडीडीए आदि को जिम्मेदारी तय की जा चुकी है। 

इस बार का लक्ष्य बड़ी चुनौती
दो साल पहले रिस्पना से ऋषिपर्णा अभियान के तहत 50सेक्टरों में दो लाख पौधे लगाए गए थे। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कैरवान गांव और मोथरोवाला में खुद पौधरोपण किया था। इस अभियान में 416 से अधिक स्कूली बच्चों ने हिस्सा लिया था। एनजीओ, आम जनता के साथ ही सरकारी महकमों के अधिकारी-कर्मचारी भी शामिल हुए थे। उस समय भी पौधरोपण में तीन घंटे का समय लग गया था।

इस बार कोरोना काल चल रहा है। ऐसे में एक घंटे में 2.75 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य कहीं न कहीं प्रशासन के सामने बड़ी चुनौती है। इस बार भी स्कूलों, सरकारी कार्यालयों, पार्कों, आवासीय कालोनियों में खाली जमीन पर पौधरोपण करने की तैयारी है। इसके अलावा जौलीग्रांट एयरपोर्ट के पास मौजूद रास्ते के डिवाइडरों के साथ ही घरों में भी पौधरोपण कराया जाएगा।
... और पढ़ें

ग्राम प्रधानों के हाथों में होगी रोजगार की सूचना, उत्तराखंड सरकार करेगी यह काम

उत्तराखंड: राज्य कर्मचारी कल्याण निगम को पुनर्जीवित करने की तैयारी, पांच लाख से ज्यादा कर्मचारियों को होगा फायदा

सहकारिता विभाग उत्तराखंड में पांच लाख से अधिक कर्मचारियों को सीधा फायदा पहुंचाने को तैयारी में है। विभाग इसके लिए उत्तराखंड राज्य कर्मचारी कल्याण निगम को पुनर्जीवित करने जा रहा है। इसके तहत कर्मचारियों को रोजमर्रा में प्रयोग होने वाली वस्तुएं सस्ती दरों पर मिलेंगी। इस योजना का शुभारंभ जुुलाई माह में होगा। 

योजना के तहत उत्तराखंड राज्य कर्मचारी कल्याण निगम ने सृष्टि डिपार्टमेंटल स्टोर से एमओयू कर लिया है। अनुबंध की शर्तों के तहत राज्य कर्मचारियों, शिक्षकों, निकायों के कर्मचारियों को स्टोर में उपलब्ध छूट के अतिरिक्त न्यूनतम ढाई प्रतिशत से लेकर पांच प्रतिशत तक की छूट मिलेगी। इसके लिए कर्मचारियों को एक कार्ड जारी किया जाएगा। अभी यह फायदा कर्मचारियों को देहरादून में सृष्टि के डिपार्टमेंटल स्टोर से मिलेगी। अगस्त तक इस योजना को प्रदेश के अन्य जिलों में भी ले जाने की योजना है। श्रीनगर और हरिद्वार से बोर्ड ऑफ गर्वनर को भी प्रस्ताव मिल गए हैं। 

2400 से अधिक प्रोडेक्ट की रेंज सृष्टि डिपार्टमेंटल स्टोर के पास उपलब्ध है। इसमें ग्रोसरी से लेकर फैशन, किचन सहित अन्य सामान उपलब्ध हैं। अधिकारियों के मुताबिक सृष्टि का सेल आउटपुट करीब ढाई करोड़ रुपये प्रति माह है। 

17 प्रतिशत अधिकतम छूट सामान के खरीदने पर कर्मचारियों को मिलेगी। स्टोर को कहा गया है कि वह ढाई से पांच प्रतिशत तक की अतिरिक्त छूट उपलब्ध कराए। मतलब ये कि स्टोर अगर दस प्रतिशत की छूूट अपने ग्राहकों को दे रहा है तो वह कर्मचारियों को न्यूनतम 12.5 प्रतिशत की छूट देगा जो अधिकतम 17 प्रतिशत तक हो सकती है।  

2015 में इस निगम का गठन किया गया था। उस समय अपर मुख्य सचिव इसके अध्यक्ष थे। तक से यह निगम बंद था। अब सहकारिता सचिव को इस निगम का अध्यक्ष और अन्य विभागों के सचिवों को सदस्य बनाया गया है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन