विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी में पिछले 24 घंटे में सामने आए 46 नए संक्रमित, संख्या बढ़कर हुई 174

कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। उत्तर प्रदेश में भी संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है।

3 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

आगरा

शुक्रवार, 3 अप्रैल 2020

वृंदावन: घरों में अदा की गई जुमे की नमाज, धर्मस्थलों के बाहर रहा पुलिस का पहरा

मथुरा जिले में कोरोना वायरस से बचाव के दृष्टिगत जहां प्रमुख मंदिरों में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक है तो वहीं दूसरी ओर, मुस्लिम समाज के लोगों भी घरों में नमाज अदा कर रहे हैं। वृंदावन में भी सभी प्रमुख धर्मस्थल बंद हैं। जुमे की नमाज पर भी कोई घर से बाहर नहीं निकला।

वृंदावन में शुक्रवार को मुस्लिम समाज के लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की और कोरोना के खात्म के लिए दुआ मांगी। नगर की सभी मस्जिदें बंद रहीं। एहतियात के तौर पर इनके बाहर पुलिस का पहरा रहा। 

वृंदावन कोतवाली प्रभारी संजीव कुमार दुबे ने बताया कि लोगों से अपील की गई थी कि घरों में नमाज अदा करें। मस्जिदों में कोई भी नमाज पढ़ने नहीं आया है। एहतियात के तौर पर मथुरा गेट, कैलाश नगर आदि स्थानों पर चौकसी बरती जा रही है। 
... और पढ़ें

कोरोना से बचाव में लगे डॉक्टर व स्टाफ क्वारंटीन में रहेंगे, एसएन के गेस्ट हाउस में बनाया जा रहा सेंटर

आगरा के सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज (एसएन मेडिकल कॉलेज) के गेस्ट हाउस को क्वारंटीन सेंटर बनाया जा रहा है। इसमें आइसोलेशन वार्ड, कोरोना वायरस के मरीज और संदिग्धों के नमूने लेने वाले स्टाफ को रखा जाएगा। नर्सिंग स्टाफ और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के लिए भी क्वारंटीन सेंटर बनाया जाएगा।

कोरोना वायरस के इलाज और नमूने लेने के कार्य में सात-सात दिन के रोस्टर प्लान के तहत ड्यूटी लग रही है। सात दिन कार्य करने के बाद चिकित्सकों का नमूना लिया जाएगा। अगर कोई चिकित्सक होम क्वारंटीन और घर नहीं जाना चाहता तो इस गेस्ट हाउस के क्वारंटीन सेंटर में वो रह सकेंगे। 

प्राचार्य डॉ. जीके अनेजा ने बताया कि कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज में लगे चिकित्सकों के लिए गेस्ट हाउस में सभी व्यवस्थाएं की गई हैं।

नेत्र रोग विभाग में भी बन रहा क्वारंटीन सेंटर

नेत्र रोग विभाग में सामान्य ओपीडी और मोतियाबिंद के ऑपरेशन बंद हैं। यहां 30 बेड की क्षमता है। विभाग में मरम्मत कार्य लगभग खत्म हो गया है। ऐसे में यहां भी क्वारंटीन सेंटर बनाया जा रहा है। यहां वार्ड तैयार हो गए हैं। 
... और पढ़ें

मथुरा में लॉकडाउन का पालन कराने में प्रशासन नाकाम, बाजार से बैंकों तक उड़ी नियमों की धज्जियां

मथुरा में लॉकडाउन के दौरान भीड़ को रोक पाने के प्रशासन के तमाम प्रयास नाकाम साबित हो रहे हैं। किसी न किसी तरह भीड़ एकजुट हो रही है और लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं। सब्जी बाजार, बैंक, मेडिकल स्टोर, राशन की दुकान, मंडी में सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया जा रहा। न ही लोग मास्क लगाकर आ रहे हैं। 

लॉकडाउन के बाद से ही केंद्र और प्रदेश की सरकारें लोगों से घरों में ही रहने की अपील कर रही हैं। लेकिन मथुरा जिले में इसका पालन पूरी तरह नहीं हो पा रहा। लॉकडाउन के बाद शुरू में बाजार में भारी भीड़ उमड़ी। प्रशासन ने होम डिलीवरी तथा घरों तक सब्जियां पहुंचाने की व्यवस्था कर दी। 

होम डिलीवरी महंगी होने के कारण कामयाब नहीं हो सकी। नगर निगम की ओर से भी खाद्यान्न क्षेत्रों में पहुंचाने की व्यवस्था की गई, जो अभी धरातल पर दिखाई नहीं दे रही है। ऐसे में लोग बाजार में ही पहुंच रहे हैं। हालांकि भीड़ कम हुई है, लेकिन लॉकडाउन के नियमों का अब भी पालन नहीं हो रहा। 
... और पढ़ें

फुफेरे भाई के इश्क में डूबी पत्नी बनी हत्यारोपी, पति के खून से रंगे हाथ, पुलिस हिरासत में खुले खौफनाक इरादे

रानी और प्रताप की फोटो मृतक विक्रम रानी और प्रताप की फोटो मृतक विक्रम

Coronavirus: फिरोजाबाद में तब्लीगी जमात से आए चार लोगों में कोरोना, बिहार के रहने वाले हैं सभी

दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित तब्लीगी जमात के कार्यक्रम से फिरोजाबाद आए सात जमातियों में से चार कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं। शुक्रवार दोपहर को लखनऊ से जांच रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) ने इसकी पुष्टि की है। 

जिले के शिकोहाबाद स्थित संयुक्त चिकित्सालय में तब्लीगी जमात से आए सात लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है। ये सभी बिहार के रहने वाले हैं। इनके नमूने जांच के लिए किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) लखनऊ में भेजे गए थे। 

शुक्रवार दोपहर को आई जांच रिपोर्ट में चार जमातियों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई। सीएमओ डॉ. एसके दीक्षित ने कहा कि इन चारों को मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जाएगा। जिले में पहली बार कोरोना के मामले सामने आए हैं। 

इससे पूर्व पड़ोसी जनपद आगरा में अब तक कोरोना के 20 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि जिले के दो लोग गुरुग्राम के अस्पताल में भर्ती हैं। इन्हें मिलाकर कुल 22 मामले हैं। तब्लीगी जमात से आगरा लौटने वाले आठ लोग संक्रमित पाए गए हैं। 
... और पढ़ें

Coronavirus: आगरा में दुबई से लौटा युवक भी कोरोना संक्रमित, जिले में अब तक 20 मामले

आगरा जिले में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शहर के जीवनी मंडी क्षेत्र में रहने वाले 35 वर्षीय युवक में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। एक अप्रैल को युवक के नमूने जांच को भेजे गए थे। जिसमें कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके बाद उसे सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज (एसएन मेडिकल कॉलेज) में भर्ती कराया गया है। युवक 20 मार्च को दुबई से लौटा था। 

स्वास्थ्य विभाग की टीम शुक्रवार सुबह उसके घर पहुंची। उसे मेडिकल कॉलेज में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। युवक के परिजनों के नमूने लिए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक के घर के आसपास मोपिंग कराई है। जिलाधिकारी प्रभू एन सिंह ने कहा, 'जहां से हमें संदिग्ध लोगों की सूचना मिल रही है, उन्हें आइसोलेशन में भर्ती कराया जा रहा है।'

आगरा जिले से संबंधित अब तक कोरोना के 22 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि प्रशासनिक स्तर पर यह आंकड़ा 20 है, क्योंकि शहर के चिकित्सक पिता-पुत्र का इलाज गुरुग्राम में चल रहा है। कोरोना संक्रमित सात वो लोग हैं, जो तब्लीगी जमात से लौटकर आए थे। आगरा में 118 जमाती और विदेश से लौटे 336 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है। 
... और पढ़ें

आगरा में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर आठ गिरफ्तार, अब तक 25 से अधिक मुकदमे दर्ज

प्रदर्शनी में बांकेबिहारी का दरबार (फाइल फोटो)
आगरा में लॉकडाउन के बावजूद लोग घरों से निकलने से बाज नहीं आ रहे हैं। थाना जगदीशपुरा के नगला बेर में शुक्रवार को लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस ने आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। 

जगदीशपुरा क्षेत्र में शुक्रवार को पुलिस गश्त कर रही थी। तभी नगला बेर में आठ लोग खड़े दिखे। वो सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं कर रहे थे। इस पर पुलिस ने सभी को पकड़ लिया। उन्हें थाने पर ले आए।

गिरफ्तार आरोपियों में नगला बेर निवासी रामेश्वर, सत्य नगर निवासी अमरेंद्र, नोबस्ता निवासी मोहसिन, आनंद नगर निवासी इसरार, भीम नगर निवासी लवलेश, लक्ष्मी नगर निवासी सूफियाना, गढ़ी भदौरिया निवासी बंटी और लक्ष्मी नगर निवासी आकाश हैं। 

उनके खिलाफ धारा 182 बी, 269, 270 और तीन महामारी अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। लॉकडाउन के उल्लंघन पर अब तक 25 से अधिक मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं।
... और पढ़ें

लेफ्टिनेंट जनरल सीपी करिअप्पा ने मुख्यालय वन कोर का पदभार संभाला

लेफ्टिनेंट जनरल सीपी करिअप्पा ने शुक्रवार को सेना के मुख्यालय वन कोर का पदभार जनरल आफिसर कमांडिंग के रूप में संभाल लिया है। उन्होंने मथुरा कोर की कमान लेफ्टिनेंट जनरल अमरदीप सिंह भिंडर से ली।

जिनके नेतृत्व में 1 कोर ने सैन्य कौशल में उच्च कीर्तिमान स्थापित किया। लेफ्टिनेंट जनरल सीपी करिअप्पा, नेशनल डिफेंस एकेडमी और इंडियन मिलिट्री एकेडमी के पूर्व छात्र रहे हैं।

जिन्होंने राजपूताना राइफल्स की चौथी बटालियन में 9 जून 1984 को कमीशन प्राप्त किया। मुख्यालय वन कोर की कमान संभालने से पूर्व वह भारत के प्रेसिडेंट, नई दिल्ली में सैन्य सेक्रेटरी के रूप में कार्यान्वित रहे हैं।
... और पढ़ें

विश्वविद्यालय में लॉकडाउन से डिग्री के आवेदकों की संख्या बढ़ी, ऑनलाइन आए प्रकरण

लॉकडाउन की घोषणा के पहले से ही 20 मार्च से डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में कामकाज बंद है। अधिकारी और कर्मचारी नहीं बैठ रहे हैं। ऐसी स्थिति में लंबित प्रकरणों की संख्या और बढ़ती जा रही है। छात्र-छात्राएं घर बैठे डिग्री आदि के लिए ऑनलाइन आवेदन कर रहे हैं। लॉकडाउन की अवधि में करीब 600 आवेदन डिग्री के लिए आए हैं।

विश्वविद्यालय में पहले ही डिग्री के लिए किए गए करीब 14000 आवेदन लंबित हैं। लॉकडाउन की अवधि में प्रोविजनल सर्टिफिकेट के लिए करीब 250 और माइग्रेशन सर्टिफिकेट के लिए 45 ऑनलाइन आवेदन किए गए हैं।

लंबित प्रकरणों की संख्या बढ़ने का असर विश्वविद्यालय खुलने पर दिखाई देगा। छात्र-छात्राओं की भीड़ बढ़ेगी। कुलसचिव डॉ. राजीव कुमार का कहना है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद लंबित प्रकरणों के निरस्तारण के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। वर्तमान परिस्थिति में काम हो पाना संभव नहीं है।  
 
... और पढ़ें

मजदूर की चार वर्षीय बेटी की नृशंस हत्या, भूसे में दबा मिला शव, गले में बंधी थी रस्सी

आगरा जिले में फैक्टरी मजदूर की चार वर्षीय बेटी की हत्या कर दी गई। बृहस्पतिवार रात उसका शव भैंसों के बाड़े में तुरी (भूसे) में दबा मिला। गले में रस्सी भी बंधी थी। शुक्रवार को पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। इस घटना से गांववाले स्तब्ध है। 

घटना थाना अछनेरा के गांव कठवारी की है। गांव का शमशेर आगरा की एक फैक्टरी में काम करता है। लॉकडाउन होने के बाद वो गांव आ गया था। बृहस्पतिवार की दोपहर शमशेर अपनी पत्नी आमना के साथ खेतों पर काम करने चला गया था। 

घर पर उसके बच्चे ही थे। शाम को पति-पत्नी घर आए। रात में बिजली जाने पर उसकी छोटी बेटी निम्मी (4) घर से बाहर निकल गई और लौटकर नहीं आई। घरवाले खोजबीन में जुटे, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। 
... और पढ़ें

आगरा के चिकित्सक पिता-पुत्र कोरोना संक्रमित, अस्पताल सील, मरीजों की होगी स्क्रीनिंग

आगरा के साईं की तकिया क्षेत्र में अस्पताल चलाने वाले चिकित्सक पिता-पुत्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। दोनों मंगलवार को गुरुग्राम के एक अस्पताल में भर्ती हुए थे।

बृहस्पतिवार को आई रिपोर्ट में दोनों पॉजिटिव पाए गए। इसकी सूचना आते ही जिला प्रशासन ने उनका अस्पताल सील करा दिया। आसपास के लोगों को घर में ही क्वारंटीन कर दिया गया है।

पिता फिजीशियन और बेटा सर्जन है। फिजीशियन की पत्नी स्त्री रोग विशेषज्ञ है। दोनों को पहले तेज बुखार हुआ, इसके बाद खांसी और बदन दर्द की शिकायत हुई। दोनों गुरुग्राम चले गए। डीएम प्रभु एन सिंह ने बताया कि गुरुग्राम से उनके कोरोना पॉजिटिव होने की फोन पर सूचना मिली है। इसी पर इनका अस्पताल सील कर दिया गया है। अन्य जानकारी जुटाई जा रही है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में सरकारी राहत पाने को उमड़ी भीड़, बैंकों से 15 करोड़ की निकासी

आगरा में सरकारी राहत पाने को शुक्रवार को बैंकों में भीड़ उमड़ पड़ी। लाभार्थियों द्वारा औसतन 15 करोड़ रुपये की निकासी की गई। लॉकडाउन में कमजोर तबके को संकट से उबारने के लिए सरकार द्वारा राहत पैकेज की घोषणा की थी। इस कड़ी में शुक्रवार को खातों में पैसा ट्रांसफर किया गया। विभिन्न बैंक शाखाओं में भीड़ उमड़ पड़ी। सोशल डिस्टेंस बनाकर लोगों को पैसा दिया गया।

गरीब कल्याण योजना का पैसा आया
- खातों में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत पैसा आया है। औसतन 15 करोड़ रुपये की निकासी हुई है। - सुरेश राम, एलडीएम

- भीड़ के बावजूद सोशल डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। - डीएस ग्रोवर, उपमहाप्रबंधक कैनरा बैंक

- बैंक की लगभग सभी शाखाओं में लाभार्थी पैसा निकालने पहुंचे हैं। - राजेश कुमार रीजनल हेड एसबीआई

- लॉकडाउन के बाद से पैसों की जरूरत बढ़ गयी है, इसलिये खाते से पैसे निकाले हैं। - नीतू देवी, गृहणी

- इस समय गुजारा चलाना मुश्किल हो गया है। सरकारी पैसों से कुछ काम चल पाएगा। - पूरन चंद, उपभोक्ता
 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Test

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us