विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

उत्तर प्रदेश

बुधवार, 16 अक्टूबर 2019

न्यूज चैनल एंकर की पत्नी की हत्या, पहेली बनी मौत की वजह, दुष्कर्म की जांच के लिए लैब भेजी गई स्लाइड

इटावा कोतवाली थाना क्षेत्र के कटरा बल सिंह मोहल्ला में सोमवार को विवाहिता दिव्या मिश्रा की मौत सिर में चोट लगने की वजह से हुई है। दुष्कर्म के संदेह को दूर करने के लिए स्लाइड बनाकर लैब भेजी गई है। हत्या की वजह अभी तक साफ नहीं हो पाई है। मंगलवार को दिव्या के ससुर ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

रिटायर्ड प्रधानाचार्य प्रमोद कुमार मिश्रा के पुत्र अजितेश मिश्रा की पत्नी दिव्या (27) की हत्या सोमवार को कटरा बल सिंह मोहल्ला स्थित तीन मंजिला घर में दी गई थी। हत्या के वक्त घर में सिर्फ उसकी ददिया सास मौजूद थीं। ससुर प्रमोद कुमार मिश्रा ने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई कि सोमवार सुबह करीब 11 बजे वे स्टाफ के बुलावे पर जनता उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कर्वा बुजुर्ग चले गए थे। घर में उनकी पुत्रवधू दिव्या और उनकी (प्रमोद) मां मौजूद थीं। दोपहर करीब दो बजे वे लौटे। दिव्या को आवाज लगाई, लेकिन वह नहीं बोली। सोचा सो रही होगी, इसलिए आराम करने लगे।
... और पढ़ें

हाईकोर्ट का आदेश, फिर भी चीनी मिलों ने नहीं किया भुगतान, किसानों का 230 करोड़ बकाया

हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी बिजनौर जिले की चीनी मिलों ने 15 नवंबर तक शत प्रतिशत भुगतान नहीं किया है। जिले की चीनी मिलों पर अब भी 230 करोड़ बकाया है। इसके अलावा चीनी मिलों पर करीब 40 करोड़ का इस साल का ब्याज भी बनता है।

नियम के अनुसार किसान द्वारा चीनी मिल को गन्ना देने के 14 दिन के अंदर भुगतान किसान के खाते में भेज देना चाहिए। अगर चीनी मिल भुगतान नहीं भेज पाती हैं तो विलंब भुगतान पर ब्याज देना होगा। लेकिन चीनी मिल न तो समय पर भुगतान ही देती हैं और न ही कभी ब्याज देती हैं। पिछले महीने हाईकोर्ट ने इस पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए चीनी मिलों को एक माह के अंदर बकाया भुगतान ब्याज सहित करने के आदेश दिए थे। आदेश के अनुसार चीनी मिलों को 15 अक्तूबर तक समस्त भुगतान करना था। लेकिन जिले की चीनी मिलों ने अब भी शत प्रतिशत भुगतान नहीं किया है। मिलों पर करीब 230 करोड़ रुपया बकाया है। इसमें बिलाई चीनी मिल पर 119.89 करोड़, बरकातपुर मिल पर 24.16 करोड़, चांदपुर चीनी मिल पर 40.57 करोड़ और बिजनौर चीनी मिल पर 45.91 करोड़ रुपया बकाया है। इसके अलावा जिले की सभी चीनी मिलों पर इस साल का करीब 40 करोड़ का ब्याज भी बकाया है।

यह भी पढ़ें: 
कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा बोले- समय से नहीं हुआ गन्ना भुगतान, तो शुगर मिलों के खिलाफ जारी होगी आरसी
... और पढ़ें

उन्नाव: जिला अस्पताल में कूड़े के ढेर में मिला नवजात का शव, सूअरों ने नोंच डाले दोनों हाथ

उन्नाव में जिला महिला अस्पताल के प्रसवोत्तर केंद्र के पास बुधवार को नवजात बच्चे का शव कूड़े के ढेर में पड़ा मिला। सूअरों ने बच्चे के दोनों हाथ नोच डाले थे। लोगों ने जब शव देखा तो अस्पताल के स्वास्थ्य अधिकारियों व पुलिस को सूचना दी।

हालांकि सूचना के बाद भी कोई स्वास्थ्य अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। प्रसवोत्तर केंद्र से लाकर नवजात बच्चे के शव को खुले स्थान में फेंकने की आशंका जताई जा रही है।

जिला महिला अस्पताल की सीएमएस डॉ. अंजू दुबे ने बताया कि शव मिलने की सूचना मिली थी। बताया कि किसी ने शव बाहर से लाकर प्रसवोत्तर केंद्र के निकट झाड़ियों में फेंका है।
... और पढ़ें

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी, 23 दिन में आएगा अदालत का फैसला

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी हो गई है। अदालत ने फैसला सुरक्षित रखा है। 23 दिन में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आएगा। सुनवाई तय समय से एक घंटा पहले ही खत्म हो गई।  अदालत ने कहा कि अगले तीन दिन तक इस मामले में दस्तावेज जमा कराए जा सकते हैं।
 


हिंदू महासभा के वकील वरुण सिन्हा ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा हौ और मामले पर फैसला 23 दिन में आएगा। 
 


अदालत में बुधवार को राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद मामले की लगतार 40वें दिन सुनवाई हुई। पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ इस मामले की सुनवाई की। सुनवाई शुरू होते ही मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) ने साफ कर दिया कि शाम को पांच बजे मामले में अंतिम सुनवाई होगी। हालांकि सुनवाई एक घंटे पहले चार बजे ही खत्म हो गई। 

मुस्लिम और हिंदू पक्ष ने अपनी-अपनी दलीलें अदालत के सामने पेश कीं। इस दौरान कोर्टरूम में ड्रामा देखने को मिला। मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने हिंदू महासभा के वकील द्वारा पेश किए गए नक्शे को फाड़ दिया।

इससे पहले मंगलवार को सीजेआई ने कहा था कि सभी पक्ष 16 अक्तूबर तक मामले से संबंधित दलीलें पेश कर दें क्योंकि फिर उन्हें फैसला लिखने में चार सप्ताह का समय लगेगा। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने अयोध्या मामले में एक पक्ष हिंदू महासभा के हस्तक्षेप के आवेदन को खारिज करते हुए कहा, 'यह मामला शाम को खत्म हो जाएगा। बहुत हो चुका। हम और समय नहीं देंगे।'

क्या-क्या हुआ 

  • अयोध्या मामले पर सुनवाई पूरी, अदालत ने फैसला सुरक्षित रखा। 23 दिन बाद आएगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला। तय वक्त से एक घंटे पहले ही सुनवाई खत्म।
  • लंच के बाद अयोध्या मामले की सुनवाई फिर शुरू हुई और मुस्लिम पक्ष ने अपनी दलीलें रखीं। उसे 45 मिनट का वक्त दिया गया। इस दौरान मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने कहा कि हिंदू महासभा प्रस्तुतीकरण में खामियां हैं।
  • हिंदू महासभा के वकील विकास सिंह ने ऑक्सफोर्ड की एक किताब का हवाला दिया और मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने किताब के नक्शे को फाड़ दिया। वकील के इस रवैये से सीजेआई रंजन गोगोई नाराज दिखाई दिए। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा ही चलता रहा तो वह उठकर चले जाएंगे।
  • सीजेआई गोगोई ने अखिल भारतीय हिंदू महासभा का अयोध्या मंदिर को लेकर दी गई दलील पर कहा, 'यदि इस तरह की बहस जारी रहेगी तो हम उठकर चले जाएंगे।' इस पर हिंदू महासभा के वकील ने कहा, 'मैं अदालत की बहुत इज्जत करता हूं। मैंने न्यायालय के शिष्टाचार को भंग नहीं किया है।'
... और पढ़ें
सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद पर सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद पर सुनवाई

भावुक रैलियों के बाद अपने एक्शन में लौटे आजम, बोले- ऐसा कहने वालों की जुबान कैसे कायम रह गई

सपा सांसद आजम खां पिछली तीन जनसभाओं में भावुक नजर आए जिसके बाद वह फिर से अपने पुराने अंदाज में लौट आए। वह अपनी पत्नी डॉ ताजीन फात्मा के लिए उपचुनाव में प्रचार करने गए थे जहां उन्होंने सरकार को निशाने पर लिया। साथ ही अपने किए गए विकास कार्यों को गिनाते हुए मुख्यमंत्री को भी चुनौती दे डाली।

18 अक्तूबर को भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार के लिए मुख्यमंत्री का रामपुर दौरा है और अजीतपुर में कार्यक्रम है। इस पर आजम खां ने कहा कि मैं आप से हिंदुस्तान की बात नहीं कर रहा हूं, न उत्तर प्रदेश की, न रामपुर की, आओ अजीतपुर की बात कर लो ढाई बरस हो गए ढाई कौड़ी नहीं लगी है।

उन्होंने कहा कि इस इलाके में अपनी सरकार में ढाई सौ करोड़ रुपये लगाए। मुख्यमंत्री साहब आप इस इलाके में तशरीफ लाने वाले हैं। इस इलाके में 18 अक्तूबर को मैं छोटा सा एमएलए ढाई सौ करोड़, आप ढाई हजार करोड़ का एलान करके जाइए! तब होगी बात! मैं चोर, मैं डाकू, मेरी बीवी डाकू, मेरे बेटे डाकू, मेरी सात वक्त की नमाज पढ़ने वाली बेवा बहन नमाज पढ़कर उठी पुलिस घसीटते हुए थाने ले गई वह डाकू। मेरी मरी हुई मां वह मुजरिम। 
... और पढ़ें

यूपी: सिद्धि पाने के लिए नशेड़ी ने मिट्टी में दबाई गर्दन, तड़पता देख पुलिस ने ऐन वक्त पर बचाई जान

एटीएस का खुलासा: नेपाल से उत्तर प्रदेश के रास्ते दिल्ली पहुंचाई जा रही थी टेरर फंडिंग की रकम

देश में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए टेरर फंडिंग की रकम नेपाल से यूपी के रास्ते दिल्ली पहुंचायी जाती थी। यहां से यह रकम अन्य प्रदेशों को भेजी जाती थी। यह खुलासा रिमांड पर लिए गए टेरर फंडिंग के चारों आरोपियों से पूछताछ में हुआ है। एटीएस को आतंकियों को धन मुहैया कराने के इस रैकेट से जुड़े कुछ और लोगों के नाम भी पता चले हैं। 

शुरुआती पूछताछ में इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है वे रकम नेपाल से यूपी लाकर अन्य साथियों को देते थे। यह साथी रकम को दिल्ली पहुंचाते थे, जहां इसे आगे भेजा जाता था। एटीएस ने जब खीरी पुलिस के साथ आरोपियों की गिरफ्तारी की थी तब पूछताछ में यह जानकारी सामने आई थी कि दिल्ली से इस रकम को आतंकी गतिविधियों को संचालन में इस्तेमाल किया जा रहा था। 

नेपाल से आई रकम को दिल्ली तक पहुंचाने वाले जिन फहीम व सदाकत के नाम सामने आए वे बरेली के इज्जतनगर इलाके के निवासी हैं। एटीएस के साथ ही अन्य एजेंसियां भी इन दोनों की तलाश में जुट गई हैं। 

इसके अलावा दो और मुमताज व सिराजुद्दीन की तलाश हो रही है। एटीएस सूत्रों के मुताबिक अभी तक की पूछताछ में गिरफ्तार आरोपियों ने दिल्ली के अलावा कुछ और जगहों पर ऐसी रकम को पहुंचाए जाने की जानकारी दी है। एटीएस इस जानकारी की तस्दीक कर रही है। 
... और पढ़ें

करवाचौथ 2019: यूपी का एक ऐसा गांव जहां भूलकर भी नहीं रखा जाता यह व्रत

Terror Funding

हर मौसम में कमरे का तापमान एक जैसा रहेगा, आईआईटी के पूर्व छात्र ने बनाई थर्मो बैटरी, यह है खासियत

बहन के घर करवा देने जा रहे छात्र की हादसे में मौत, चलती ट्रेन से उतरने के प्रयास में पोल से टकराया

अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
विज्ञापन